November 27, 2020

LIC money back plan rs 160 invest per day you will get 23 lakh after 25 years | LIC Money Back Plan: रोज केवल 160 रुपये की बचत कर आप पा सकते हैं 23 लाख रुपये की बड़ी रकम

1 min read

 LIC Money Back Plan: रोज केवल 160 रुपये की बचत कर आप पा सकते हैं 23 लाख रुपये की बड़ी रकम- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

 LIC Money Back Plan: रोज केवल 160 रुपये की बचत कर आप पा सकते हैं 23 लाख रुपये की बड़ी रकम

नई दिल्‍ली।  सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम ( LIC) कई तरह के बीमा और निवेश विकल्‍प मुहैया कराती है। LIC की ज्यादातर पॉलिसी लोगों को पसंद आती हैं। अगर आप चाहते हैं कि थोड़ा बहुत निवेश करें और ढेर सारा रिटर्न मिले तो आपकी यह इच्छा पूरी हो सकती है। इसके लिए LIC ने एक प्लान लॉन्च किया है, जिसका नाम एलआईसी न्यू मनी बैक पॉलिसी (LIC New Money Back Policy) है।

इस प्लान की खासियत ये है कि बीमा कराने वाले को हर साल 5 साल में मनी बैक, मैच्योरिटी में बेहतर रिटर्न, साथ ही टैक्स इंश्योरेंस बेनिफिट भी मिलता है। एलआईसी  का यह मनी बैक प्लान एक नॉन लिंक्ड लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी है। जो कि गारंटीड रिटर्न और बोनस मिलता है। इस प्लान को लेने के आपके पास 20 साल और 25 साल के 2 ऑप्शन मिलेंगे। यह पॉलिसी पूरी तरह से टैक्स फ्री पॉलिसी है। इसके साथ ही इसके ब्याज, प्रीमियम पेमेंट और मैच्योरिटी पर मिलने वाली राशि पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। इस प्लान में अगर आप 25 साल तक अगर आप हर दिन 160 रुपये निवेश करते हैं तो 25 साल बाद आपको 23 लाख रुपये तक मिलेंगे।

एलआईसी  के मुताबिक, इस प्लान को 13 साल से लेकर 50 साल तक का कोई व्यक्ति ले सकता है। इस प्लान में हर पाचवें साल में यानी 5वें साल, 10वें साल, 15वें साल, 20वें साल पर 15-20 फीसदी मनी बैक मिलेगा। लेकिन यह तभी होगा जब प्रीमियम का कम से कम 10 फीसदी जमा हो जाएगा। इसके साथ मैच्योरिटी पर निवेशकों को बेनस दिया जाएगा। कुल 10 लाख रुपये के इस प्लान में एक्सिडेंटल डेथ का लाभ भी मिलेगा। मैच्योरिटी होने पर निवेशकों को बेनस भी दिया जाएगा। 

आयकर विभाग ने 39.75 लाख करदाताओं को 1.32 लाख करोड़ रुपये वापस किए

आयकर विभाग ने चालू वित्त वर्ष में अबतक 39 लाख से अधिक करदाताओं को 1.32 लाख करोड़ रुपये से अधिक रिफंड किये हैं। इसके तहत व्यक्तिगत आयकर मद में 35,123 करोड़ रुपये और कंपनी कर मामले में 97,677 करोड़ रुपये वापस किए गए।

आयकर विभाग ने ट्विटर पर लिखा है कि केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक अप्रैल, 2020 से 10 नवंबर, 2020 के दौरान 39.75 लाख करदाताओं को कर रिफंड के रूप में 1,32,800 करोड़ रुपये वापस किए। इसमें 37,81,599 करदाताओं को व्यक्तिगत आयकर मद में 35,123 करोड़ रुपये तथा कंपनी कर के 1,93,813 मामलों में 97,677 करोड़ रुपये वापस किए गए। 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.