December 1, 2020

Vedanta puts in expression of interest to buy govt stake in BPCL | Vedanta ने BPCL में सरकारी हिस्सेदारी खरीदने के लिए दाखिल किया अभिरुचि पत्र

1 min read

Vedanta puts in expression of interest to buy govt stake in BPCL- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Vedanta puts in expression of interest to buy govt stake in BPCL

नई दिल्‍ली। वेदांता समूह ने बुधवार को कहा कि उसने भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) में सरकार की हिस्सेदारी खरीदने के लिए प्रारंभिक अभिरुचि पत्र (ईओआई) दाखिल कर दिया है। भारत के दूसरे सबसे बड़े ईंधन रिटेलर कंपनी में वेदांता की दिलचस्पी उसके अपने मौजूदा तेल और गैस कारोबार के साथ तालमेल रहने के कारण है। सरकार बीपीसीएल में अपनी पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच रही है और इसके लिए अभिरुचि पत्र (ईओआई) दाखिल करने की अंतिम तिथि 16 नवंबर थी।

कंपनी के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि बीपीसीएल के लिए वेदांता का ईओआई हमारे मौजूदा तेल और गैस कारोबार के साथ संभावित तालमेल का मूल्यांकन करने के लिए है। सरकार ने बोली लगाने के समाप्ति के मौके पर कहा था कि कई अभिरुचि पत्र प्राप्त हुए हैं। हालांकि, उसने बोली लगाने वालों की पहचान उजागर नहीं की।

बीपीसीएल के प्रमुख केंद्रों पर ग्राहक सुविधा स्टोर खोलेगी क्यूब हाइवेज

सरकारी कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने प्रमुख राजमार्गों पर ग्राहक सुविधा केंद्र खोलने के लिए क्यूब हाइवेज के साथ हाथ मिलाया है। इसका उद्देश्य ग्राहकों विशेषकर ट्रक चालकों को मूल्य वर्धित सेवाएं मुहैया कराना है। एक बयान में कहा गया कि इसके तहत बीपीसीएल के पेट्रोल पंप स्टेशनों पर नए ब्रांडेड खाद्य बिक्री स्थल, सुविधा स्टोर, शौचालय आदि खुलेंगे।

इस नए ब्रांड का नाम घर आउटलेट होगा। इस तरह का पहला बिक्री केंद्र बेंगलुरु के नजदीक राष्ट्रीय राजमार्ग-सात पर बीपी-होसुर में तैयार हुआ है। इसका प्रबंधन क्यूब हाईवेज करेगा। क्यूब हाइवेज सिंगापुर की एक कंपनी है। इसने भारत में कुछ सड़क व राजमार्ग परियोजनाओं में निवेश किया है। बीपीसीएल ने इसी तरह की सेवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के साथ भी समझौता किया है। इसके तहत पेट्रोल पंपों पर मूल्यवर्धित सेवाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। इसमें प्रमुख राजमार्गों पर इस तरह के सेवा केंद्र  खोले जाते हैं, जो कि देश की इस दूसरी सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी द्वारा चलाए जाते हैं। 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.